Category Archives: कविताएँ

ज्ञानी की पहचान सूरत से नहीं सीरत से होती है.

प्रेरणा मेहरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित। साधारण से लोग भी साधारण तरीके से असाधारण काम कर जाते है आज ये लेख उन्ही सब लोगो के लिए समर्पित है जिन्होंने साधारण सा जीवन जीकर अपने जीवन को सफल बनाया और बहुत से लोगो के लिए एक प्रेरणा बन गये। धनंजय चौहान-धनंजय, जो एक राजनीतिक कार्यकर्ता भी हैं, ने पंजाब विश्वविद्यालय (पीयू) में

Read more

National PanchayatiRaj Day

प्रेरणा महरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित. उम्मीदो की जब पंचायत बैठी,वास्तिविकता, सर झुका कर,धीरे से अपनी बात कह बैठी। मैं अकेली सबकी उम्मीदो पर,खरा कैसे उतर पाऊँगी?जो एक की मानी,तो दूजे को ,न चाह कर भी चोट पहुँचाऊँगी। इस बात की गहराई को समझ,पंचायत को भी वास्तिविकता पर तरस आया।वास्तिविकता को इंसाफ देने के लिए,फिर सरपंच को बुलाया। सरपंच ने वास्तविकता

Read more

Happy Book Day

प्रेरणा महरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित. किताब ही दोस्त बनकर,हमे सही राह दिखाती है।हमारी खामियों का एहसास,बिना बोले, वो हमे कराती है। किताबो के उन तमाम पन्नो ने ही तो,हमे बहुत कुछ सिखाया है।मुसीबतों में भी मुस्कुराकर लड़ना,हमे इन्हे पढ़ कर ही तो आया है। किताबों में लिखा वो एक शब्द ही,सबकी दृष्टिकोण से अलग अलग दिखता है।सत्य मार्ग का वो एक ही

Read more

Happy Earth Day

प्रेरणा महरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित. संसाधनों से भरपूर है हमारी धरती माता,कोई बरसाता अपनी करुणा इन पर,तो कोई ज़रा भी, इनकी पीड़ा, समझ नहीं पाता। अरबो जीवो को मिलता इनकी कोख में सहारा,अपना सर्वस्त्र, यूँ तुम पर लुटाने वाली को,चाहिये, बस रक्षा का सूत्र तुम्हारा। चारो दिशाओ से की है इन्होने हमारी हिफाज़त,फिर क्यों खिलवाड़ किया प्रकृति से,किस ने दी

Read more

Hang Up Your Key की मुहिम से जुड़िए : Castrol Active और Zee Media की पहल

प्रेरणा महरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित. इस वक़्त में कुछ ऐसा कर जाओ,जो अनंतकाल तक अविस्मरणीय बन जाये।चाह कर भी लोग उसे फिर,बिना याद किये, रह ना पाये। घर बैठ कर ही अपनी अपनी,क्षमताओं का प्रकाश फैलाओ।कुछ सीख कर, तो कुछ सिखा कर,अपने देश को इस महामारी से बचाओ। दान केवल अनाज का ही नहीं,सही ज्ञान का भी तो हो सकता

Read more

अम्बेडकर जयंती

प्रेरणा महरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित. भारत रत्न डॉ भीमराव अंबेडकर को बाबासाहेब, डॉ भीमराव अंबेडकर के नाम से भी जाना जाता है। वह भारत सरकार के सामाजिक न्याय मंत्रालय के अनुसार विश्व स्तर के वकील, समाज सुधारक और नंबर एक विश्व स्तरीय विद्वान थे।भीमराव अम्बेडकर जी का जन्म 14 अप्रैल 1891 में मध्य प्रदेश के महू में हुआ था. आज

Read more

हम 22 मार्च को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक जनता कर्फ्यू का समर्थन करते हैं.

प्रेरणा महरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित। जनता कर्फ्यू लगाने के पीछे का महत्व, है बड़ा ही निराला,करोना वायरस को फैलने से, जो हम सब ने, एक साथ संभाला। सुरक्षित देश बन जाएगा, ये प्यारा भारत फिर हमारा। एक स्थान पर अधिकतम 12 घंटे ये वायरस जिंदा रहता है.चुपके से फैलता और किसी से, ये कुछ भी नहीं कहता है। प्रभावित रोगी

Read more
« Older Entries Recent Entries »