टाटा मेमोरियल द्वारा लॉकडाउन के दौरान सफलतापूर्वक 494 कैंसर सर्जरी की गई.

प्रेरणा मेहरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित, मीता कपूर की जानकारी पर आधारित। 

मुंबई: ऐसे समय में जब कोविद -19 महामारी के कारण दुनिया भर में कैंसर का इलाज धीमा हो गया है, मुंबई के टाटा मेमोरियल अस्पताल ने तालाबंदी के दौरान 494 कैंसर रोगियों का सफलतापूर्वक ऑपरेशन कर एक अतिसंवेदनशीलता का उदाहरण दिया है, उनमें से कई रोगियों की अधिक आयु, मधुमेह या उच्च रक्तचाप था  जिसकी वजह से  उन्हें कोरोना संक्रमण होने का खतरा ज़्यादा था। 

देश भर में तालाबंदी की तारीख से शुरू हुए पांच सप्ताह के दौरान विभिन्न कैंसर के लिए 494 सर्जरी की गई। अस्पताल का यह प्रयास महामारी के दौरान दुनिया में कैंसर की सर्जरी का शायद सबसे बड़ा निकाय है – जिसे  एनल्स ऑफ सर्जरी ’में मुद्रित किया जा रहा है, जो सर्जरी के लिए सबसे अच्छी चिकित्सा पत्रिकाओं में से एक है।

टाटा मेमोरियल के डिप्टी डायरेक्टर डॉ शैलेश वी श्रीखंडे ने कहा कि इन कैंसर के रोगियों में से केवल छह मरीजों का कोविद परीक्षण सकारात्मक आया, लेकिन उन्हें आईसीयू देखभाल की जरूरत नहीं थी। लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि कैंसर से इतने सारे मरीज़ो में किसी की भी जान नहीं गई। 

मुंबई शहर में कोविद संक्रमण के मामलों को देखते हुये ये कार्य थोड़ा मुश्किल था लेकिन टाटा हॉस्पिटल की इस सफलता ने बहुत से रोगियों की हिम्मत बांधी है।

अंत में हम बस यही कहेंगे कि भले ही इस महामारी ने लोगो के दिल में डर पैदा कर दिया है लेकिन ऐसे वक़्त में हमे केवल उन लोगो पर ध्यान देना है जो कोविद के रहते हुये भी अपनी बड़ी से बड़ी बीमारी जैसे कैंसर से भी सफलता पूर्वक लड़ पाये। 

Leave a Reply

%d bloggers like this: