मुरादाबाद के बुज़ुर्गो का हैरान कर देने वाला जज़्बा….

प्रेरणा मेहरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित। 

मुरादाबाद-ऐसे वक़्त में जब बच्चों और खास कर के बुजुर्गो को घर पर रहने को कहा जा रहा है ऐसे में मुरादाबाद की उपवन संस्था जो रिटायर बुजुर्गो द्वारा पर्यावरण की रक्षा हेतु बनाई गई है उसके सदस्य स्टेशन पर खड़े रहकर, गुज़रती ट्रेनों में बैठे मज़दूरों को निस्वार्थ परमल, चने व पानी वितरित कर रहे है।

उपवन के एक 66 वर्षीय स्वयंसेवक श्री श्याम कुमार मेहरोत्रा जी ने पॉजिटिव न्यूज़ कार्नर को बताया कि कैसे उपवन के सदस्य दो पालियो में अपनी अपनी ड्यूटी के समय स्टेशन पर लोगो की मदद के लिए पहुँच जाते है। आधे लोग शाम 4-7 बजे, और आधे 7 -10 बजे तक चने, परमल और पानी बांटते है। उपवन की टीम पूरे दिन में 200 से 300 पैकेट वितरित करती है। मेहरोत्रा जी ने बताया कि जब वह लोग स्टेशन पर जाते है तब RSS के सदस्य भी उन्हें  वहां मिलते है जो मुसाफिरों को भोजन के पैकेट अथवा पानी देने का काम करते है। 

उपवन का मुख्य काम मुरादाबाद शहर के उबड़ खाबड़ पार्को का संरक्षण करना है,और यह नेक कार्य ये सरे बुजुर्ग मिलकर करते है, और इसके अध्यक्ष श्री सुधाकर रंजन जी है जो उपवन के सदस्यों- सुनील कौशिक,अरविन्द कुमार शर्मा,सतपाल गुप्ता,उमेश कुमार व्यास,के के माटा, अमित शुक्ला,अशोक कुमार गुप्ता आदि के साथ मिलकर यह नेक कार्य बड़े निस्वार्थ भाव के साथ इस योजना के उद्देश्य “स्वस्थ जीवन स्वस्थ समाज” को पूरा करने के लिए करते है।

मेहरोत्रा जी ने बताया कि वह इस संस्था के सदस्य नहीं है लेकिन एक स्वयं सेवक के रूप में अपना कर्तव्य निभा रहे है उन्होंने कहा कि ऐसे वक़्त में जब हम सबको एक दूसरे का साथ देने की ज़रूरत है, भले ही हम सीनियर सिटीजन की केटेगरी में आते है. लेकिन यह हमारा कर्तव्य भी है कि हम ऐसे वक़्त में आगे आकर जो कुछ भी थोड़ा बहुत हमसे हो सके हम वह सब, इस महामारी से पीड़ित लोगो के लिए करे, और ऐसा करके हमे भी बेहद अच्छा लगता है।

श्री श्याम मेहरोत्रा जी ने बताया कि “हम सब वहां सामाजिक दूरी का भी पूरा ध्यान रखते है क्योंकि दूसरों के साथ साथ हमे स्वयं को भी बचाना है।

एक झलक उपवन के सदस्यों की।

अंत में हम बस यही कहना चाहेंगे कि जहाँ एक’तरफ लोग इस महामारी से डर रहे है वही कुछ बुजुर्ग इस महामारी से निपटनें के लिए अपनी निस्वार्थ सेवा देकर, अपने देश की मिट्टी की एक मिसाल पेश कर रहे है। हमे गर्व है इन तमान सदस्यों व स्वयं सेवको पर जो ऐसे समय में भी खुदको बचाते हुए दूसरों की मदद के लिए आगे आ रहे है।

One comment

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s