वैसाखी के अवसर पर न्यू जर्सी के गवर्नर फिल मर्फी ने सिख समुदाय की प्रशंसा की।

प्रेरणा महरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित।

न्यूयॉर्क.अमेरिका (USA) में न्यू जर्सी कोविड-19 महामारी से न्यू यॉर्क के बाद सबसे ज़्यादा जूझ रहा है, ऐसे वक़्त में भी सिख समुदाये ने एक बार फिर विदेश में भारत का नाम ऊंचा किया है.कोरोना से लड़ाई में सिख समुदाय के योगदान को देखते हुए न्यू जर्सी के गवर्नर ने वैसाखी के मौके पर सिख धर्म की प्रशंसा की. न्यू जर्सी के गवर्नर (Governor Phil Murphy) ने वैसाखी के अवसर पर सिख समुदाय को अपने संदेश में कहा कि सिख धर्म में सेवा, समानता एवं गरिमा के मूल्य समाहित हैं। ऐसे वक़्त में भी यह लोग आगे आकर मदद कर रहे है ये कृत्य वाकई प्रशंसा के योग्य है। 

न्यू जर्सी के गवर्नर (Governor Phil Murphy) ने  सिख समुदाय को वैसाखी की शुभकामनाएं देते हुये सोमवार को ट्वीट किया कि सिख समुदाय में सेवा, समानता और गरिमा के मूल्य समाहित हैं जो मौजूदा समय में मुख्य रूप से महत्वपूर्ण हैं.’ उन्होंने कहा कि न्यूसर्जी में सिख समुदाय की जनसँख्या अमेरिका में सबसे ज़्यादा है, इसलिए वैसाखी के त्यौहार के इस अवकाश को मान्यता देने के लिए इस राज्य से बेहतर स्थान नहीं हो सकता. न्यू जर्सी में करीब एक लाख सिख-अमेरिकी रहते है. न्यू जर्सी राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के 64,584 मामलों की पुष्टि हुई है और 2,440 लोगों की मौत हो चुकी है.

देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनज़र ब्रिटेन के सिख समुदायों ने मिसाल पेश की है. सिख समुदाय ने कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देजनर लोगों से सुरक्षित रहने का आग्रह किया है और सभी कार्यक्रमों को रद्द कर दिया. ब्रिटेन सरकार के घरों में रहने के संदेश का समर्थन करते हुए गुरुद्वारों में इस बार ऐसे कार्यक्रम आयोजित नहीं किये जायेंगे जिनमें भारी भीड़ इकट्ठा होती हो.

ब्रिटेन की सबसे बड़ी सिख आबादी वाले शहरों में से एक, बर्मिंघम में हैंड्सवर्थ पार्क में आयोजित एक वैसाखी कार्यक्रम, लॉकडाउन के बीच रद्द कर दिया गया, इसके साथ ही लीसेस्टर, साउथॉल और ग्रेवसेंड के समारोहों को भी रद्द कर दिया गया।

वार्षिक वैसाखी के अवसर पर होने वाले नगर कीर्तन के रूप में रंगारंग जुलूस,लंगर ,पारंपरिक सिख मार्शल आर्ट, सांस्कृतिक गतिविधियों आदि का आयोजन तालाबंदी के कारण रद्द कर दिया गया और इसके स्थान पर कमजोर लोगों की मदद के लिए सामुदायिक सेवा पर ध्यान केंद्रित कर दिया गया है।

यद्यपि सिख धर्म आत्मरक्षा को प्रोत्साहित करता है, यह स्पष्ट रूप से बदला लेने या प्रतिशोध लेना नहीं सिखाता है, और समाज को घृणा से मुक्त होना सिखाता है।सिख समुदाय ने सिख धर्म के सिद्धांतो को केवल पढ़ा ही नहीं अपितु उन पर अमल भी करके दिखाया।

Leave a Reply

%d bloggers like this: