आर्थिक मंदी के दौर में भी आईटी प्रमुख कैपजेमिनी ने अपने 70 प्रतिशत कर्मचारियों के वेतन में वृद्धि की घोषणा की.

प्रेरणा महरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित, शाहिद की जानकारी पर आधारित।

ऐसे समय में जब कुछ लोग अपनी नौकरी खो रहे है तो कुछ अपनी नौकरी बचाने के लिए दिन रात मेहनत कर रहे है। ऐसे वक़्त में भी अपने कर्मचारियों के विश्वास को बनाए रखने के लिए, अपने 2 लाख कर्मचारियों में से जिसमे भारत में लगभग 1.2 लाख कर्मचारियों को रोजगार देने वाली फ्रेंच आईटी फर्म कैपजेमिनी ने अपने 70 प्रतिशत कर्मचारियों या हम कह सकते है अपने भारत के 84,000 कर्मचारियों को 1 अप्रैल से वेतन वृद्धि की पेशकश की है, यह वेतन वृद्धि एकल इकाई में होगी। केवल इतना ही नहीं कंपनी जुलाई में अपने बाकी कर्मचारियों के वेतन में भी वृद्धि करेगी।

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनी ने उन लोगों के लिए 10,000 रुपये नकद की भी घोषणा की है जो लॉक डाउन की वजह से बिना किसी निवास के फंसे हुए हैं और उन्हें भी नियम अनुसार उनका वेतन दिया जायेगा जो प्रोजेक्ट ना मिलने की वजह से बेंच पर खाली बैठे है।

कैपजेमिनी के सीईओ अश्विन यार्डी ने एक रिपोर्ट के ज़रिये बताया कि यह केवल कुछ कहने का समय नहीं है बल्कि इसे प्रदर्शित करके भी दिखाना होगा। इस कठिन समय में, लोग हमें परखेंगे और देखेंगे कि हम विश्वास बनाये रखने के लिए क्या कार्रवाई कर रहे हैं।हमारे पास कुछ लागत-रोकथाम के उपाय होंगे जिसे वक़्त पर हमे ज़रूर उपयोग में लायेंगे और इसके लिए हमारे अपने अन्य उपाय है।

इस वक़्त की परिस्थिति को देखते हुये हम इस समय को ब्लैक स्वान से सम्बोधित कर सकते है। यह समयरेखा का सवाल नहीं है,बल्कि यह सोचने का है कि हमारा व्यवसाय कैसे विकसित होगा। हमारे पास एक स्पष्ट दृष्टिकोण है कि हमारा आर्थिक मॉडल कैसा दिखने वाला है कैपजेमिनी के सीईओ ने कहा कि हम इस दृष्टिकोण को बदलने का कोई कारण नहीं देख रहे हैं।

” यार्डी ने कहा कि “ए और बी ग्रेड (84,000 कर्मचारियों) के सभी कर्मचारियों को अपनी बढ़ोतरी मिल गई है और अन्य को हमारी योजना के अनुसार वेतन वृद्धि मिलेगी। कैपजेमिनी इंडिया के, नेतृत्व द्वारा भारत में वेतन कटौती के लिए कोई चर्चा नहीं हुई।

इसके अलावा, आईटी फर्म ने अपना शिफ्ट अलाउंस उन लोगों के लिए बढ़ाया है जो घर से काम कर रहे हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनी ने मार्च पेरोल के साथ ही वैरिएबल पेआउट की भी घोषणा की है।

कंपनी ने घर से काम करने वाले कर्मचारियों का भत्ता बढ़ाया है। कोविद -19 फॉलआउट से पहले 15-20% की तुलना में आज कंपनी के 95% एम्प्लाइज घर से काम करने में सक्षम है। अप्रैल के लिए निर्धारित प्रमोशन 1 जुलाई से प्रभावी होगी और जून में घोषित किये जायेंगे। कंपनी ने मार्च पेरोल के साथ सभी पात्र कर्मचारियों को परिवर्तनीय भुगतान किया है।

कंपनी ने किसी भी मेडिकल इमरजेंसी के लिए अपने कर्मचारियों और उनके परिवारों को मेडिकल इंश्योरेंस की आवश्यकता से परे 200 करोड़ रुपये का फंड भी तैयार किया है।

कैपजेमिनी का यह कृत्य अविस्मरणीय रहेगा क्योंकि सच्चा मालिक तो वही है जो वक़्त पर अपने कर्मचारियों के काम आ सके और उन्हें उनके दुखो से मुक्त कर सके। अंत में हम बस यही कहना चाहेंगे कि इस कंपनी से हर कंपनी को प्रेरणा लेनी चाहिए और ज़रूरत मंद लोगो की मदद करनी चाहिए। इस वक़्त केवल गरीब ही नहीं हर इंसान ही किसी ना किसी तरह से दुविधा में फंसा हुआ है, इसलिए सब मिलकर आगे आये और एक दूसरे की सहायता करे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: