ट्रांसजेंडर भी आगे आये, समाज की सेवा हेतु।

प्रेरणा महरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित,शाहिद की जानकारी पर आधारित।

वडोदरा:ट्रांसजेंडर, समाज का वो वर्ग है, जो किसी भी ख़ुशी के मौके पर, घरों में अपना आशीर्वाद देकर जाते है और बदले में पर्याप्त बख्शीश प्राप्त करते है. जिससे वह अपना जीवन यापन कर पाते है। लेकिन वर्तमान स्थिति में जब लोग घर पर बैठे हैं और आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्ग के कई लोग बिना किसी भोजन के ही अपना वक़्त गुज़ार रहे है, ऐसे में इन ट्रांस्जेंडरों ने यह सुनिश्चित करने के लिए अपने कोषो को खोल दिया है कि कोई भी भूखा न सोए।

गोधरा और वडोदरा में कई ट्रांसजेंडर डोर-टू-डोर जा रहे हैं ताकि जरूरतमंदों को, लॉकडाउन लागू होने के दौरान, एनजीओ के माध्यम से, भोजन वितरित किया जा सके।

बरनपुरा की कल्पना कुंवर ने कहा, “हमारे पास कोई व्यवसाय नहीं है और हमारे पास जो पैसा है वह समाज का है। इसलिए आज चूंकि समाज की जरूरत है, हम केवल इसे वापस दे रहे हैं लेकिन एक अलग रूप में।”

गोधरा में ट्रांसजेंडर ने शनिवार से मलिन बस्तियों में अनाज, दूध, पानी और अन्य आवश्यक वस्तुओं का वितरण शुरू किया।

गोधरा के पूजा कुंवर ने कहा कि उन्होंने दो दिनों में 300 घरों में भोजन और अनाज वितरित किया हैं और कई और लोगों तक पहुंचने की योजना बना रहे हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: