95,उम्र की स्विस महिला कोरोनोवायरस से जीत कर घर लौटी।

प्रेरणा महरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित, शहीद की जानकारी पर आधारित।

LE LOCLE, स्विट्जरलैंड (रायटर) – एक 95 वर्षीय स्विस महिला जो COVID-19 से पीड़ित थी, गहन देखभाल में एक सप्ताह में ठीक होने के बाद शुक्रवार को अपने 10 पोते और 11 परपोतो के साथ घर पर ऑनलाइन थी।

गर्ट्रूड फट्टन ने रायटर को बताया कि उसका एक अलग कमरे में इलाज किया गया था और एक समय ऐसा भी आया जब उनकी सांस लेने में मदद करने के लिए उन्हें इंटुबैट किया जाना था लेकिन उन्होंने इसके लिए मना कर दिया था।

गर्ट्रूड फट्टन ने कहा “इस उम्र में मुझे इंटुबैट न करें। मैंने अपना जीवन जी लिया है और मैंने उनसे कहा अब मुझे शांति से यहाँ से जाने दो। ‘

एंटीबायोटिक्स और मलेरिया की दवा क्लोरोक्वाइन के साथ एक सप्ताह के उपचार के बाद, अब वह बेहद खुश है और आराम से उनके परिवार और अपनी बिल्ली के साथ घर में रह रही है।

उन्होने कहा “मुझे उम्मीद है कि अच्छे से जीने के लिए पर्याप्त ताकत मुझे वापस मिल जाएगी। मेरे पास पोते, परपोते हैं, मैं उन्हें देखना और सुनना चाहूंगी। मैं उनके साथ अपने आई पैड पर इंटरनेट पर चैट करती हूं। ”

फट्टन ने कहा कि वह साँस लेने की समस्याओं को विकसित करने से पहले एक सप्ताह के लिए ले लोक्ले शहर में घर में बिस्तर पर बीमार थी। एक एम्बुलेंस उन्हें
La Chaux-de-Fonds में अस्पताल ले गई थी।

उन्होंने कहा कि हॉस्पिटल में उन्होंने मेरा रक्तचाप लिया। वे दिन में तीन बार सीधे मेरी नसों में एंटीबायोटिक्स डालते थे। यह बहुत मुश्किल था लेकिन यह ठीक भी था क्योंकि “मैं मरने से नहीं डरती हूँ , बिलकुल नहीं। मेरी उम्र, 95 है और यह जाने का समय है। लेकिन मुझे नहीं लगा कि मैं मरने वाली हूं, बिल्कुल नहीं। मुझे डर नहीं था.

फट्टन, जो एक वॉकर का उपयोग करती है, ने रायटर को बताया कि वह जीवन भर स्वस्थ रही, हालांकि उन्होंने ब्रोंकाइटिस के लिए रक्तचाप की दवा और कभी-कभी खांसी की दवाई ली।

उनकी बेटी जैकलिन फट्टन ने याद करते हुये बताया : “जब डॉक्टर ने मुझे बताया कि उनके रक्त में ऑक्सीजन की कमी हो रही थी और उनके पास इसे रोकने के लिए 24 घंटे थे, तो मैं वास्तव में बहुत डर गई और सोचा कि मैं उन्हें उस रात खो दूंगी।

जैकलीन ने कहा “अगले दिन डॉक्टरों ने कहा कि डॉक्टर्स पूरी कोशिश कर रहे है और उन सभी संभव दवाओं को आज़मा रहे हैं। जो हम कर सकते हैं वह हम करेंगे और हम कर रहे है ’… तीसरे दिन तक, ऑक्सीजन वापस आ गया और दवाओं ने बहुत अच्छा काम किया।

“मैं सेल फोन के साथ दिन में दो बार कॉल कर सकती थी। जब मैंने देखा कि वह मुझसे ज्यादा खांसे बिना मुझसे बात कर सकती है, तो मुझे पता था कि हम जीत गए हैं,।

स्वास्थ्य कर्मियों ने कहा कि कोरोनोवायरस से स्विस मौत का आंकड़ा शुक्रवार को 197 लोगों तक पहुंच गया और संक्रमित मामलों की संख्या बढ़कर 12,161 हो गई।

Leave a Reply

%d bloggers like this: