कामा कार्तिकेयन, दक्षिण अमेरिका की सबसे ऊँची चोटी पर पहुंचने वाली दुनिया की पहली सबसे कम उम्र की लड़की बनी।

प्रेरणा महरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित, शाहिद की जानकारी पर आधारित

नौसेना अधिकारियों ने कहा कि मुंबई में नौसेना के चिल्ड्रन स्कूल (एनसीएस) की कक्षा सात की छात्रा कामा कार्तिकेयन, दक्षिण अमेरिका की सबसे ऊंची चोटी माउंट एकॉनकागुआ के  शिखर पर पहुंचने वाली दुनिया की पहली सबसे कम उम्र की लड़की बनी।

6962 मीटर पर, माउंट एकांकुआ एशिया के बाहर सबसे ऊँची चोटी है।कार्तिकेयन ने 1 फरवरी को पर्वत शिखर पर चढ़कर तिरंगा फहराया। नौसेना के अधिकारियों ने कहा कि उसने शारीरिक और मानसिक तैयारी के साथ साथ साहसिक खेलों में नियमित भागीदारी के बाद यह हासिल किया।

युवा लड़की ने इस दुर्लभ उपलब्धि को हासिल करने के लिए कई प्रशासनिक बाधाओं और विषम परिस्थितियों में चढ़ाई कर इतना बड़ा मुकाम हासिल किया।

काम उम्र में दुर्लभ उपलब्धि को हासिल किया।
कार्तिकेयन ने माउंट एकांकुआ में देश का सिर ऊंचा किया।

Leave a Reply

%d bloggers like this: