फ़ास्ट टैग (FASTag) तकनीक से बना स्मार्ट डायपर गीला होने पर सूचित करेगा।

प्रेरणा महरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित, शाहिद की जानकारी पर आधारित

जैसा कि हम सब जानते है कि प्रौद्योगिकी रोजमर्रा की समस्याओं को हल करने और हमारे जीवन को आसान बनाने के लिए है। MIT के नए शोध का लक्ष्य सिर्फ इतना है कि यह रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) तकनीक पर चलने वाले “स्मार्ट” डायपर के साथ आया है, बिलकुल वैसे जैसे जो आपकी कार के विंडशील्ड पर FASTag को पावर देता है।

शिशुओं के लिए, एक गीला डायपर दर्दनाक चकत्ते पैदा कर सकता है, और यही कारण है कि डायपर में एम्बेडेड कम लागत वाले नमी सेंसर आपको सूचित करना सुनिश्चित करते हैं जब घर के बच्चे को एक नए डायपर की आवश्यकता होती है।

एमआईटी ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा, “जब सेंसर में डायपर की नमी का पता लगाता है, तो यह एक नजदीकी रिसीवर को संकेत भेजता है, जो स्मार्टफोन या कंप्यूटर को भी सूचना भेज सकता है।”

RFID टैग को सुपर अब्सॉर्बेंट पॉलिमर की एक परत के नीचे रखा जाता है- एक प्रकार का हाइड्रोजेल जिसे आमतौर पर नमी को सोखने के लिए डायपर में इस्तेमाल किया जाता है। जब हाइड्रोजेल गीला होता है, तो सामग्री फैल जाती है और थोड़ा प्रवाहकीय हो जाती है – एक मीटर दूर तक आरएफआईडी रीडर की सीमाएं काम करती है।

एमआईटी शोधकर्ताओं का कहना है कि डिजाइन हाइड्रोगेल का पहला प्रदर्शन है जो आरएफआईडी का उपयोग करके डायपर में नमी महसूस करने के लिए एक कार्यात्मक एंटीना तत्व के रूप में है। उनका अनुमान है कि सेंसर को बनाने में 2 सेंट से कम की लागत आती है, जो इसे अन्य स्मार्ट डायपर तकनीक के लिए कम लागत और डिस्पोजेबल विकल्प बनाता है।

एमआईटी की ऑटोआईडी प्रयोगशाला में अनुसंधान सहायक पंखुड़ी सेन का कहना है कि रोगियों को मदद करने के लिए सेंसर को वयस्क डायपर में भी एकीकृत किया जा सकता है जो खुद अनजान या शर्मिंदा हो यह बतलाने में कि डाइपर बदलने की आवश्यकता है।

“डायपर का उपयोग न केवल शिशुओं के लिए किया जाता है, बल्कि वरिष्ठ रोगियों की आबादी के लिए भी किया जाता है जो बेडरेस्ट पर हैं और अपनी देखभाल करने में असमर्थ हैं,” सेन ने बतलाया। “देखभाल करने वाले के लिए इन मामलों में यह सुविधाजनक होगा और वह आसानी से मरीज़ की परिस्थिति को समझ पायेगा बिना उसके कुछ कहे।

फ़ास्ट टैग (FASTag) तकनीक से बना स्मार्ट डायपर,
अब वक़्त पर बदला जायेगा हर शिशु का डायपर,
होगी नहीं ,शिशु की माँ भी अब हाइपर।

Leave a Reply

%d bloggers like this: