दिल्ली: IGI एयरपोर्ट टर्मिनली से महिलाओं के लिए महिलाओं द्वारा संचालित कैब।

प्रेरणा महरोत्रा गुप्ता द्वारा लिखित, मीता कपूर की जानकारी पर आधारित

टर्मिनल -3 पर ऑल-वुमन कैब सर्विस की शुरुआत के साथ, अब अकेले यात्रा करने वाली महिला यात्रियों के पास इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे (IGIA) से सुरक्षित यात्रा करने का विकल्प है।लगभग 20 कैब से एक अच्छी शुरुवात, जो एक निजी कंपनी सखा और आईजीआईए के बीच साझेदारी का परिणाम है जिसे  10 जनवरी को लॉन्च किया गया  और सबसे महत्वपूर्ण बात ये है की कैब में केवल महिला ड्राइवर हैं, जिनमें से प्रत्येक को आत्मरक्षा प्रशिक्षण दिया गया है।

T3 के आगमन फोरकोर्ट के पिलर नंबर 16 के बाहर कैब को या तो खुदसे सखा काउंटर पर बुक किया जा सकता है या फिर इसकी वेबसाइट, http://www.sakhaconsultingwings.com के माध्यम से प्री-बुक किया जा सकता है। यह सेवा IGIA की वेबसाइट wwwnewdelhiairport.in पर भी उपलब्ध है। कैब कॉल करके भी बुक की जा सकती है जिसका नंबर है  9999193004/9278708888.

किराया अन्य टैक्सी सेवाओं के समान है, जो किलोमीटर वाले मॉडल पर काम करते हैं, साथ ही रात के घंटे (10pm से 5am बजे) के लिए 25% अतिरिक्त शुल्क भी लेते हैं। “यह सेवा न केवल महिलाओं के लिए रोजगार के अवसर प्रदान करती है बल्कि सखा द्वारा महिलाओ और उनके परिवार वालो को सुरक्षा भी प्रदान करेगी।  हवाई अड्डे के अधिकारियों ने कहा कि चालक विश्वसनीयता और अखंडता के उच्चतम मानकों का पालन करते हैं।

दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (DIAL) के साथ कैब को मल्टीलेवल कार पार्किंग क्षेत्र में पार्क किया जाएगा, जिसमें कहा गया है कि जल्द ही और कैब शुरू की जाएंगी और सेवा का विस्तार अन्य टर्मिनलों से भी किया जाएगा। कैब का इस्तेमाल राष्ट्रीय राजधानी के क्षेत्र में यात्रा करने के लिए किया जायेगा  और दो बाहरी स्थानों – आगरा और जयपुर को भी कवर किया गया है।

इन कैब्स को बहुत अच्छी और अनोखी तरह से बनाया गया है। ग्राहक की सुरक्षा हेतु एक पैनिक बटन भी लगाया गया है जिससे यदि आवश्यक हो, तो ग्राहक सहायता टीम जल्द से जल्द कैब में सहायता प्रदान करने के लिए पहुंच जाए।”अधिकारी ने कहा,इनमें से कुछ कारें व्हीलचेयर और शारीरिक रूप से अक्षम यात्रियों के लिए भी हैं.

महिला यात्रियों को सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए, डायल ने सखा कैब्स के साथ मिलकर महिला टैक्सी सेवा शुरू की है, जो महिलाओं द्वारा महिलाओं के लिए सुरक्षित परिवहन समाधान प्रदान करती है। यह उन महिलाओं के बीच पहले से ही काफी लोकप्रिय हो गया है जो शहर की सड़कों पर असुरक्षित महसूस करती हैं। ‘

नारी की सुरक्षा के लिए, आज नारी ही बढ़कर है आगे आई।
दुनिया दारी भूल, आज वो भी जग कल्याण में अपना हाथ बंटा पाई।

9 comments

  • महिलाओं की सुरक्षा को लेकर बहुत ही बेहतर कदम उठाया गया जिससे महिला अपने आप को सुरक्षित महसूस करेंगी और देर रात बी यात्रा कर सकेंगी

    Like

    • Prerna Mehrotra Gupta

      बिलकुल सही और इस कदम से नारी का आत्म विश्वास भी बढ़ेगा।

      Like

  • Bahut badiya. Aise hi aage badte chale har naari to ye desh bahut aage bad jaaye.

    Like

  • Dr. Sunil Pevekar

    Making the country safe for women is one of the top 3 duties of a man. I will now feel safer for my wife, mother, sisters n daughters. May the women in India walk without fear. May they give birth to fearless daughters. Jai Hind.

    Like

    • Prerna Mehrotra Gupta

      Women think twice before stepping out of their homes, especially at night. indeed it’s a good initiative. I think men and women both should work on it.

      Like

  • Very nice initiative…

    Like

  • It’s a great initiative for women’s

    Like

  • Very good initative. Helpful for women travellers.

    Like

  • Excellent initiative for women increases confidence of women by this step

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s